1. मंज़िल

    by
    Comment
    मत डर, चलता चल हर पल सफलता की तरफ , देखो एक मंजिल है बढ़ती हुई तुम्हारी तरफ , चलता जा मुसाफिर बस बढ़ता जा उसी तरफ , राह में कठिनाइयां बहुत है तो समाधान भी है , कुछ रास्ते बंद हैं , तो कुछ बढ़े भी हैं , तुम्हारी...