तुम्हारे मूरत से बढ़कर इस जहाँ में कोई खूबसूरत नहीं है

Posted by
|

मेरे लिए परिवार से बढ़कर
इस जहाँ में कोई दौलत नहीं है
मेरे लिए सम्मान से बढ़कर
इस जहाँ में कोई सोहरत नहीं है ||

हक़ीक़त से वास्ता रखता हूँ
हवा में कोई भी बात नहीं करता
झूठी दिलासा से बढ़कर
इस जहाँ में कोई फितरत नहीं है ||
मेरे लिए परिवार से बढ़कर
इस जहाँ में कोई दौलत नहीं है
मेरे लिए सम्मान से बढ़कर
इस जहाँ में कोई सोहरत नहीं है ||

संदेश चाहे अनुशाशन का हो
या फिर चैन और अमन का हो
आपस की लड़ाई से बढ़कर
इस जहाँ में कोई नफरत नहीं है ||
मेरे लिए परिवार से बढ़कर
इस जहाँ में कोई दौलत नहीं है
मेरे लिए सम्मान से बढ़कर
इस जहाँ में कोई सोहरत नहीं है ||

ए मेरे जीवन के मालिक और
इस जहाँ के रखवाले तुम हो
तुम्हारे मूरत से बढ़कर
इस जहाँ में कोई खूबसूरत नहीं है ||
मेरे लिए परिवार से बढ़कर
इस जहाँ में कोई दौलत नहीं है
मेरे लिए सम्मान से बढ़कर
इस जहाँ में कोई सोहरत नहीं है ||

Add a comment