1. कुरबान हो जाऊं

    by
    Comment
    शीर्षक-कुर्बान हो जाऊं जब जाना है एक दिन तो क्यों ना देश के खातिर क़ुर्बान हो जाऊं, दुश्मन की धरती पर तिरंगा है फहराना क़ुर्बान हो जाऊं, जाने दो घर से मुझको, मुश्किल है तुम्हे कह पाना, पल भर की उदासी के खातिर, ना देश का नुकसान हो जाये, मां...