अनंत जीवन

Posted by
|

वे देशभक्त
आज़ादी हित
फाँसी के तख्ते पर झूले

हँसते हँसते
कह गए
वचन ये मौन-
‘निज देश हेतु
मरना न मृत्यु
जीवन अनंत है’

Add a comment