भारत माँ, तुझसे करते हैं वादा

Posted by
|

तुझे सम्पूर्ण और मुकम्मल आजादी दिलाने का है पूरा पूरा इरादा
हे भारत माँ, करना है तुझसे आज एक छोटा सा आशामयी वादा

जकडी और उलझी हुई है आज भी तू ना जाने किन किन बेड़ियों में
इन बेड़ियों के टुकड़े टुकड़े करने का किया है खुद से चाहतभरा वादा

वक्त ने जो तेरी साँसों में दे दी है भ्रष्टाचार की दूषित दुर्गन्ध
उसे महकती खुशबू में बदल डालने का है हमारा ओजस्वी वादा

अमीर होता जा रहा है अमीर और गरीब दरिद्रता में पिस्ता जा रहा
मेहनत और चेष्टा के बल पर इन रेखाओं को जड़ से मिटाने का है वादा

लूटमार और धोखाधड़ी का दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है रोग
इस घृणा भरी बीमारी पर भी नियंत्रण लाने का है पूरा पूरा वादा

क्यूँ रहें बिना पढ़े लिखे आज भी हमारे साथी नौजवान और युवतियां
गाँव गाँव और गली गली साक्षरता और शिक्षा लाने का किया है वादा

कहते हैं तुझे हम माँ और लुटते देखते हैं बेधड़क इज्ज़त स्त्रियों की
आज अपनी कथनी और करनी में समानता लाने का है सक्षम वादा

आज मांग रही है भारत माँ एक मुख़्तलिफ़ और अनोखा सा बलिदान
उस न्यारी सी उसकी चाहत पर मर मिटने का है हम सभी का इरादा

तुझे सम्पूर्ण और मुकम्मल आजादी दिलाने का है पूरा पूरा इरादा
हे भारत माँ, करना है तुझसे आज एक छोटा सा आशामयी वादा

Add a comment