माँ तु मेरा सूरज है

Posted by
|

मां तू कहती है मैं तेरा चांद हूं |
लेकिन मैं कहता हूं तू मेरा सूरज है ||
जिस तरह सूरज की किरण पेड़ पौधों को जीवन देती है|
उसी तरह तूने मुझे जीवन दिया है मां तू मेरा सूरज है||
जिस तरह सूरज की किरण पृथ्वी का लालन-पालन करती है |
उसी तरह तू मेरा लालन-पालन करती है |
मां तू मेरा सूरज है||
जिस प्रकार ग्रहण लगने से सूरज का तेज खत्म नहीं होता |
उसी प्रकार कोई मुश्किल आने से तेरा धैर्य कम नहीं होता |
मां तू मेरा सूरज है||
जिस प्रकार सूरज की पहली किरण धरती का अंधेरा हटाती है |
उसी तरह तू मेरे जीवन से हर मुश्किल दूर भगाती है ||
मां तू मेरा सूरज है |
जिस तरह सूरज की ऊर्जा से कली खिल जाती है |
उसी प्रकार तेरा स्नेह मेरे जीवन में नई उमंग भर जाती है ||
मां तू मेरा सूरज है |
जिस तरह सूरज बिना पृथ्वी का कल्याण नहीं होता उसी तरह मां तेरे बिना मेरा कल्याण नहीं होता |
मां तू मेरा सूरज है ||
जिस तरह सूरज दिन-रात गतिशील रहता है उसी तरह माता मेरी तू निरंतर गतिशील रहती है |
माँ तू मेरा सूरज है!! ||
माँ तू मेरा सूरज है!! ||

Add a comment