पनडुब्बी वाले प्रहरी

Posted by
|

पनडुब्बी वाले प्रहरी
(14 अगस्त,2003 को भारतीय पनडुब्बी सिंधुरक्षक में हुई दुर्घटना में शहीद होने वालों को श्रद्धांजलि)
– डॉ.रश्मि वार्ष्णेय
देश की रक्षा के लिए तैनात, हे पनडुब्बी वाले प्रहरी !
जिस निष्ठा और लगन से, करते हो देश की चौकसी।।
बुलंद हौसलों को हमारा सलाम। हे पनडुब्बी … …

जल में पसरी हुई वीरानी में, अनंत गहराई में सागर की।
घर-परिवार से रहते तुम दूर, सीमा सुदूर अथाह पानी की।।
इस एकाकी जीवन को सलाम। हे पनडुब्बी … …

कैप्सूल में भरी ताकत जैसे, पनडुब्बी में रहते हो वैसे।
वहाँ रखे हथियारों की सेज पर, सोते-जागते डटे हो ऐसे।।
कठिन जीवन शैली को सलाम। हे पनडुब्बी … …

समुद्री सीमा का खतरा बनते घुसपैठियों पर लगाम कसते।
दुश्मन के जहाजी बेड़ों को जकड़ते, देश को निरापद बनाते।।
नौसेना के सेनानियों को सलाम। हे पनडुब्बी … …

देश के तटों की रक्षा करते, नॉटीकल मील की चौकसी करते।
बंद नली में बिना रोशनी के, मरते दम तक संघर्ष करते।।
जलती चिता की जल-समाधि को सलाम। हे पनडुब्बी … …

Add a comment